लाइफस्टाइल

आखिर भारत में बायीं तरफ क्यों चलतीं है गाड़ियां? जान ले इसके पीछे की असली वजह!

अगर आप विदेश गए है तो आपका इस बात पर जरूर ध्यान गया होगा या फिर आपने कई बार सुना भी होगा कि भारत में बायीं तरफ कार चलाई जाती है, जबकि अमिरेका और ज्यादातर पश्चिम देशों में कार दायीं ओर चलाई जाती है। ऐसा आपने कई बार सुना होगा। हम आपको बता दे कि ये बात तो बिल्कुल सच है कि भारत में गाड़ियां बायीं ओर चलाई जाती है। वहीं अमेरिका ओर बाकी देशों में दायीं तरफ चलाई जाती है।

अब ऐसा क्यों होता है, इसके पीछ कई कहानियां है लेकिन सच कोई नही बताता। इसके अलावा अगर आपने ध्यान दिया हो तो भारत की कारों में स्टेयरिंग बायीं तरफ होता है। इसके पीछे मन में कई सवाल आते है पर जवाब समझ में नहीं आता।

आज हम आपको बताएंगे कि आखिर इसके पीछे क्या राज है। ऐसा राज जो आपको अब हमेशा याद रखना होगा ताकि कभी कोई कुछ पूछे तो आपके पास इस चीज का जवाब हो।

भारत में बायीं ओर क्यों चलतीं हैं कारें:

भारत में कारों के बायीं ओर चलने का कारण भारत नहीं, बल्कि इंग्लैंड है। हम सभी को पता है कि इंग्लैंड ने भारत में कई साल राज किया और भारत में इंग्लैंड के कई कानूनों का पालन किया जाता है। जो तब से लेकर अभी तक चल ही रहे है।

आपको बता दे कि इंग्लैंड में शुरू से ही कारें सड़क के बायीं ओर ही चलतीं हैं। 1756 में इंग्लैंड में इसे कानून बना दिया गया और इस कानून का पालन सभी ब्रिटिश शासित देशों में किया जाने लगे। जब भारत भी इंग्लैंड का गुलाम था तो यहां भी वैसा ही किया गया।

वहीं दूसरी ओर अमेरिका और काफी देशों में गाड़ी दायीं तरफ चलाई जाती है। इसके पीछे भी एक कारण है। माना जाता है कि 18वीं शताब्दी में अमेरिका में टीमस्टर्स की शुरुआत हुई थी। इसे घोड़ों की मदद से खींचा जाता था। इस वैगन में ड्राइवर के बैठने के लिए जगह नहीं होती थी और इसलिए वो सबसे बाएं घोड़े पर बैठकर दाएं हाथ से चाबुक इस्तेमाल करता था। लेकिन इससे वो ड्राइवर पीछे आने वाले वैगनों पर नजर नहीं रख पाता था और इसलिए बाद में अमेरिका में सड़क के दायीं ओर चलने का कानून बन गया।

 

Facebook Comments

विज्ञापन

सोशल मीडिया पेज से जुड़े

विज्ञापन

Archives